Hanuman Chalisa Lyrics Hindi | हनुमान चालीसा हिंदी


Hanuman Chalisa Lyrics Hindi | हनुमान चालीसा हिंदी: आध्यात्मिकता के क्षेत्र में, ऐसे कई पवित्र ग्रंथ हैं जो दुनिया भर के भक्तों के लिए अत्यधिक महत्व रखते हैं। ऐसी ही एक श्रद्धेय रचना है “हनुमान चालीसा।” हनुमान चालीसा एक भक्ति भजन है जो शक्तिशाली वानर देवता भगवान हनुमान को समर्पित है, जिन्हें भगवान राम के प्रति उनकी अटूट भक्ति और निस्वार्थ सेवा के लिए मनाया जाता है। यह लेख हनुमान चालीसा के गहन प्रभाव, इसकी ऐतिहासिक उत्पत्ति और आधुनिक समय में इसकी प्रासंगिकता पर गहराई से प्रकाश डालता है।

Table of Contents

Hanuman Chalisa Lyrics Hindi | हनुमान चालीसा हिंदी

॥ दोहा ॥

श्रीगुरु चरन सरोज रज निज मनु मुकुरु सुधारि ।
बरनउँ रघुबर बिमल जसु जो दायकु फल चारि ॥

बुद्धिहीन तनु जानिके सुमिरौं पवन-कुमार ।
बल बुधि बिद्या देहु मोहिं हरहु कलेस बिकार ॥

॥ चौपाई ॥

जय हनुमान ज्ञान गुन सागर ।
जय कपीस तिहुँ लोक उजागर ॥०१॥

राम दूत अतुलित बल धामा ।
अंजनी-पुत्र पवनसुत नामा ॥०२॥

महाबीर बिक्रम बजरंगी ।
कुमति निवार सुमति के संगी ॥०३॥

कंचन बरन बिराज सुबेसा ।
कानन कुण्डल कुंचित केसा ॥०४॥

हाथ बज्र और ध्वजा बिराजै ।
काँधे मूँज जनेऊ साजै ॥०५॥

संकर सुवन केसरी नंदन ।
तेज प्रताप महा जग बन्दन ॥०६॥

बिद्यावान गुनी अति चातुर ।
राम काज करिबे को आतुर ॥०७॥

प्रभु चरित्र सुनिबे को रसिया ।
राम लखन सीता मन बसिया ॥०८॥

सूक्ष्म रूप धरि सियहिं दिखावा ।
बिकट रूप धरि लंक जरावा ॥०९॥

भीम रूप धरि असुर सँहारे ।
रामचन्द्र के काज सँवारे ॥१०॥

लाय संजीवन लखन जियाये ।
श्रीरघुबीर हरषि उर लाये ॥११॥

रघुपति किन्ही बहुत बड़ाई ।
तुम मम प्रिय भरतहि सम भाई ॥१२॥

सहस बदन तुम्हरो जस गावैं ।
अस कहि श्रीपति कंठ लगावैं ॥१३॥

सनकादिक ब्रम्हादि मुनीसा ।
नारद सारद सहित अहीसा ॥१४॥

जम कुबेर दिगपाल जहाँ ते ।
कबि कोबिद कहि सके कहाँ ते ॥१५॥

तुम उपकार सुग्रीवहिं कीन्हा ।
राम मिलाय राज पद दीन्हा ॥१६॥

तुम्हरो मंत्र बिभीषन माना ।
लंकेस्वर भए सब जग जाना ॥१७॥

जुग सहस्त्र जोजन पर भानु ।
लील्यो ताहि मधुर फल जानू ॥१८॥

प्रभु मुद्रिका मेलि मुख माहीं ।
जलधि लाँघि गये अचरज नाहीं ॥१९॥

दुर्गम काज जगत के जेते ।
सुगम अनुग्रह तुम्हरे तेते ॥२०॥

राम दुआरे तुम रखवारे ।
होत न आज्ञा बिनु पैसारे ॥२१॥

सब सुख लहै तुम्हारी सरना ।
तुम रच्छक काहू को डर ना ॥२२॥

आपन तेज सम्हारो आपै ।
तीनों लोक हाँक तें काँपै ॥२३॥

भूत पिसाच निकट नहिं आवै ।
महाबीर जब नाम सुनावै ॥२४॥

नासै रोग हरै सब पीरा ।
जपत निरन्तर हनुमत बीरा ॥२५॥

संकट तें हनुमान छुडावे ।
मन क्रम बचन ध्यान जो लावै ॥२६॥

सब पर राम तपस्वी राजा ।
तिन के काज सकल तुम साजा ॥२७॥

और मनोरथ जो कोई लावै ।
सोहि अमित जीवन फल पावै ॥२८॥

चारो जुग परताप तुम्हारा ।
है परसिद्ध जगत उजियारा ॥२९॥

साधु सन्त के तुम रखवारे ।
असुर निकन्दन राम दुलारे ॥३०॥

अष्टसिद्धि नौ निधि के दाता ।
अस बर दीन जानकी माता ॥३१॥

राम रसायन तुम्हरे पासा ।
सदा रहो रघुपति के दासा ॥३२॥

तुम्हरे भजन राम को पावै ।
जनम जनम के दुख बिसरावै ॥३३॥

अन्त काल रघुबर पुर जाई ।
जहाँ जन्म हरिभक्त कहाई ॥३४॥

और देवता चित्त न धरई ।
हनुमत सेही सर्ब सुख करई ॥३५॥

संकट कटै मिटै सब पीरा ।
जो सुमिरे हनुमत बलबीरा ॥३६॥

जय जय जय हनुमान गोसाईं ।
कृपा करहु गुरुदेव की नाईं ॥३७॥

जो सत बार पाठ कर कोई ।
छूटहि बन्दि महा सुख होई ॥३८॥

जो यह पढ़ै हनुमान चालीसा ।
होय सिद्धि साखी गौरीसा ॥३९॥

तुलसीदास सदा हरि चेरा ।
कीजै नाथ हृदय मह डेरा ॥४०॥

॥ दोहा ॥

पवनतनय संकट हरन मंगल मुर्ति रूप ।
राम लखन सीता सहित हृदय बसहु सुर भूप ॥

॥ जय-घोष ॥

बोल बजरंगबली की जय ।
पवन पुत्र हनुमान की जय ॥
॥ जय श्री राम ॥

FOLLOW US @ INSTAGRAM CLICK HERE

हनुमान चालीसा की रचना महान संत तुलसीदास ने 16वीं शताब्दी में अवधी भाषा में की थी, जो हिंदी की एक बोली है। तुलसीदास भगवान राम के समर्पित अनुयायी और भगवान हनुमान के प्रबल भक्त थे। उन्होंने हनुमान के अद्वितीय गुणों और असीम प्रेम की प्रशंसा में चालीसा लिखी।

हनुमान चालीसा का पाठ करने की शक्ति

शक्ति और साहस प्रदान करना

हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार, हनुमान चालीसा का जाप करने से भगवान हनुमान का आशीर्वाद प्राप्त होता है, जिन्हें शक्ति और वीरता का प्रतीक माना जाता है। कहा जाता है कि रोजाना चालीसा का पाठ करने से भक्तों के भीतर साहस और धैर्य पैदा होता है, जिससे उन्हें जीवन में बाधाओं और चुनौतियों से निपटने में मदद मिलती है।

नकारात्मकता और बुरी शक्तियों से बचना

भगवान हनुमान अपने सुरक्षात्मक स्वभाव के लिए पूजनीय हैं, और माना जाता है कि हनुमान चालीसा का जाप करने से व्यक्तियों के चारों ओर सकारात्मक ऊर्जा का कवच बन जाता है। ऐसा माना जाता है कि यह नकारात्मक प्रभावों, बुरी ताकतों और बुरी आत्माओं को दूर रखता है, सुरक्षा और संरक्षा की भावना को बढ़ावा देता है।

आध्यात्मिक विकास को बढ़ाना

आध्यात्मिक पथ पर चलने वाले साधकों के लिए, हनुमान चालीसा एक मार्गदर्शक के रूप में कार्य करती है, जो अपने छंदों के माध्यम से मूल्यवान जीवन शिक्षा प्रदान करती है। चालीसा का पाठ करने और उसके अर्थ को समझने से, भक्त अपने आध्यात्मिक संबंध को गहरा कर सकते हैं और भक्ति, निस्वार्थता और समर्पण के सार में अंतर्दृष्टि प्राप्त कर सकते हैं।

स्वास्थ्य और अच्छाई

ऐसा कहा जाता है कि हनुमान चालीसा के माध्यम से भगवान हनुमान का आशीर्वाद लेने से शारीरिक और मानसिक कल्याण हो सकता है। माना जाता है कि पाठ से उत्पन्न सकारात्मक तरंगों में उपचार गुण होते हैं, जो अच्छे स्वास्थ्य और जीवन शक्ति को बढ़ावा देते हैं।

संरचना और महत्व

हनुमान चालीसा 40 छंदों से बनी है, जिनमें से प्रत्येक को बड़ी सटीकता और वाक्पटुता के साथ तैयार किया गया है। छंद “चौपाई” प्रारूप में लिखे गए हैं, जिसमें चार-पंक्ति वाली चौपाइयां शामिल हैं। धार्मिक समारोहों या व्यक्तिगत पूजा के दौरान भक्त अक्सर चालीसा का पाठ विभिन्न रूपों में करते हैं, जिसमें गायन, जप या सुनना शामिल है।

उद्घाटन दोहा

चालीसा की शुरुआत दोहा से होती है, एक ऐसा दोहा जो पूरी रचना के लिए स्वर निर्धारित करता है। आरंभिक दोहा भगवान हनुमान की स्तुति करता है और भक्तों के दुखों को दूर करने और ज्ञान प्रदान करने के लिए उनका दिव्य आशीर्वाद मांगता है।

चालीस श्लोक

हनुमान चालीसा के 40 छंद भगवान हनुमान की महिमा और भगवान राम के प्रति उनकी अटूट भक्ति का वर्णन करते हैं। प्रत्येक श्लोक हनुमान के चरित्र के विभिन्न पहलुओं को खूबसूरती से चित्रित करता है, जो इसे भक्ति साहित्य का एक मनोरम टुकड़ा बनाता है।

समापन दोहा

चालीसा का समापन एक समापन दोहे के साथ होता है जिसमें भगवान हनुमान से हृदय में निवास करने और भक्तों को जन्म और मृत्यु के चक्र से मुक्त करने का अनुरोध किया गया है। यह परमात्मा में शरण लेने और उच्च शक्ति के प्रति समर्पण करने के महत्व पर जोर देता है।

आधुनिक समाज पर प्रभाव

आज की तेज़-तर्रार दुनिया में, दैनिक जीवन की आपाधापी के बीच आध्यात्मिकता के सार को अक्सर अनदेखा कर दिया जाता है। हालाँकि, हनुमान चालीसा दुनिया भर में लाखों लोगों के लिए आशा और सांत्वना का प्रतीक बनी हुई है।

तनाव से राहत और मानसिक शांति

तनाव कम करने और आंतरिक शांति पाने के लिए हनुमान चालीसा का पाठ एक प्रभावी तरीका माना जाता है। छंदों की ध्यानात्मक लय मन पर शांत प्रभाव डालती है और व्यक्तियों को आधुनिक जीवन की चुनौतियों से राहत पाने में मदद करती है।

भक्ति और विश्वास का विकास करना

भगवान हनुमान के भक्तों को भगवान राम के प्रति उनके अटूट समर्पण से सांत्वना मिलती है, और चालीसा भक्ति और विश्वास की शक्ति की याद दिलाती है। यह लोगों को परमात्मा के साथ गहरा संबंध विकसित करने और धार्मिकता का मार्ग अपनाने के लिए प्रेरित करता है।

एकता और सद्भावना को बढ़ावा देना

हनुमान चालीसा का जाप जाति, पंथ और राष्ट्रीयता की सीमाओं को पार करके लोगों को एक साथ लाता है। यह समुदायों के बीच एकता और सद्भाव की भावना को बढ़ावा देता है, एकता और सार्वभौमिक भाईचारे के विचार को बढ़ावा देता है। Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से प्रचार-प्रसार

प्रौद्योगिकी के आगमन के साथ, हनुमान चालीसा को विभिन्न डिजिटल प्लेटफार्मों के माध्यम से प्रचार-प्रसार का एक नया रास्ता मिल गया है। ऑनलाइन प्लेटफ़ॉर्म, सोशल मीडिया और डिजिटल ऐप्स ने चालीसा को वैश्विक दर्शकों के लिए सुलभ बना दिया है, जिससे भक्त दुनिया के किसी भी कोने से इसके पवित्र छंदों से जुड़ सकते हैं। Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

निष्कर्ष

भौतिक गतिविधियों से प्रेरित दुनिया में, हनुमान चालीसा एक कालातीत खजाने के रूप में खड़ी है, जो व्यक्तियों को आध्यात्मिकता, साहस और करुणा की ओर मार्गदर्शन करती है। इसका महत्व युगों-युगों तक कम नहीं हुआ है, और इसकी शिक्षाएँ लाखों लोगों को आत्म-खोज और भक्ति की यात्रा के लिए प्रेरित करती रहती हैं।

तो, आइए हम हनुमान चालीसा को अपने जीवन में अपनाकर भगवान हनुमान के दिव्य आशीर्वाद को अपनाएं और इससे होने वाले गहन परिवर्तन को देखें। अटूट भक्ति और विश्वास के साथ, हम आध्यात्मिक विकास के द्वार खोल सकते हैं, अपने भीतर और अपने आस-पास की दुनिया पर गहरा प्रभाव छोड़ सकते हैं। Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

What is Hanuman Chalisa, and what does it mean?

Hanuman Chalisa is a devotional hymn dedicated to Lord Hanuman, the legendary monkey god. It comprises 40 verses praising Lord Hanuman’s virtues and seeking his blessings for various aspects of life. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

Who composed the Hanuman Chalisa, and when was it written?

The Hanuman Chalisa was composed by the renowned saint Tulsidas in the 16th century. He wrote it in the Awadhi language, a dialect of Hindi. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

What are the benefits of reciting Hanuman Chalisa regularly?

Regular recitation of Hanuman Chalisa is believed to bestow courage, ward off negativity, enhance spiritual growth, and promote overall well-being. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

Can anyone recite the Hanuman Chalisa, or is it only for Hindus?

Hanuman Chalisa is open to people of all faiths. Its universal appeal and teachings on devotion and selflessness transcend religious boundaries. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

Is there a specific time to recite Hanuman Chalisa for maximum benefits?

While there is no fixed time, many people prefer to recite it during the morning or evening as part of their daily prayers or meditation routine. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

How long does it take to recite the entire Hanuman Chalisa?

The duration of reciting Hanuman Chalisa depends on the pace of the individual. It typically takes around 10 to 15 minutes to chant all 40 verses. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

Can Hanuman Chalisa help in times of distress or difficult situations?

Yes, reciting Hanuman Chalisa during challenging times is believed to provide strength, solace, and divine intervention to overcome obstacles. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

Are there any specific guidelines to follow while reciting Hanuman Chalisa?

While there are no rigid rules, reciting with utmost sincerity, devotion, and understanding of the meanings can enhance its impact. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

Is it necessary to know the meaning of each verse while reciting Hanuman Chalisa?

While knowing the meanings can deepen the spiritual experience, sincere recitation with devotion is equally beneficial, even if one does not understand the language. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

Can children also recite Hanuman Chalisa?

Yes, children can recite Hanuman Chalisa. It can help instill positive values, discipline, and a sense of spirituality from a young age. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

Is there any specific way to offer prayers while reciting Hanuman Chalisa?

People often light incense sticks, offer flowers, and light lamps while reciting Hanuman Chalisa as a mark of respect and devotion. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

Are there any festivals or auspicious occasions associated with Hanuman Chalisa?

Hanuman Janmotsav, the birthday of Lord Hanuman, is a significant occasion when devotees recite the Chalisa with great fervor. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

Is it necessary to recite Hanuman Chalisa daily, or can it be done occasionally?

While daily recitation is beneficial, one can also recite it on specific days or when seeking Lord Hanuman’s blessings for particular needs. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

Does listening to Hanuman Chalisa hold the same significance as reciting it?

Yes, listening to the Hanuman Chalisa with devotion can have similar effects as actively reciting it, and it is a convenient option for many. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

Can Hanuman Chalisa be recited to seek protection and blessings during travel?

Yes, many people chant Hanuman Chalisa before embarking on journeys, seeking Lord Hanuman’s protection and a safe trip. Hanuman Chalisa Lyrics Hindi

Leave a Comment